25+ Motivational Poems in Hindi About Success

Motivational Poems in Hindi About Success

Motivational Poems in Hindi

गुनाह की कमी नहीं धरती पर
चोरी-चकारी, लूट- खसौट,
कोई हत्यारा है कोई बलात्कारी
खाकी वाले भी कलंक हो गए खाकी पर.

एक और गुनाह है यहाँ पर बन्दे
जो इन सबसे थोडा अजीब है,
सबसे बड़ा गुनाह है ये
गर तू यहाँ पर गरीब है.

गुनाहों का पर्चा और भी है
ये तो फिर भी ठीक है,
एक और गुनाह ये है तेरा
के तू गरीब के साथ शरीफ है.

चालाकी की चोला औढ ले
तभी गरीबी कोहरा पायेगा,
शराफत के पायजामे में तो
चैन से सांस तक ना ले पायेगा.

अमीरो की परछाई से तू
रूह फ़ना क्यूँ करता है,
ये सोच कर हर कदम बढ़ा
कि जो डरता है वो मरता है.

प्रवेश कुमारपीके

120+ Motivational Quotes About Teamwork

===—@@—===

Motivational Poems in Hindi for Students

चेहरे पर कई तरह के चिन्ह लिए
मैं साक्षात्कार के लिए जा रहा था,
हर चिन्ह चेहरे पर ऐसे उभर रहा था
की कोई पढना चाहे तो ऐसे पढ़ ले
जैसे किताब पढ़ रहा हो.

तभी एक कॉलेज के विधार्थी पर नजर पड़ी
चेहरे पर उसके चमक थी,
मैंने कहा अभी बाहर से तू अनजान है
इसलिए तू हंस रहा है,
कॉलेज के बाहर की दुनिया को देख
बेरोजगारी का सांप सबको डस रहा है.

उसने कहा जो ठीक से नहीं पढ़ते
वे ही इसके शिकार होते हैं,
मेरे जैसे तो अब भी खुश हैं
और बाद में भी यूँ ही हँसते हैं.

मेरे दिल को उस पर तरस आया
मैंने उसको ये समझाना चाहा,
क्यूँ ग़लतफहमी में तू जीता है
जब सच जानेगा तो खुद पछतायेगा,
देखेगा अनपढ़ों को करोड़ों में खेलते हुए
तो अपनी डिग्रियों को देख देख कर रोयेगा.

मैंने कहा अभी बाप के पैसों पर पल रहा है
घर में मुफ्त का चारा चर रहा है,
जब सब कुछ खुद से करना पड़ेगा
तब पैसों की कीमत को जानेगा,
जब धुप में दिनभर घूमना पड़ेगा
और हाथ में कुछ ना आ पायगा.
जब देखेगा सौ में से नब्बे प्रतिशत लोग
सिफारिशों से नौकरी पाते हैं,
तब इन्टरनेट के सारे विकल्प
झूठे साबित हो जाते हैं.

कभी यहाँ से कॉल, कभी वहां से फ़ोन
रोज होगी साक्षात्कारों की अंधी दौड़,
जब रोज नए कारणों से नाकारा जाएगा
खुद को पाएगा हर जगह अकेला और
हर अपना तुझे दुश्मन नजर आएगा.

अभी जाने क्या-क्या सच सुनने बाकि है
अभी से उसकी आँखें भर आयीं हैं,
मैं तो ये सोचकर हैराँ हूँ
कि जो है भविष्य देश का
उसी की हालत जर्जरायी है.

प्रवेश कुमारपीके

===—@@—===

Motivational Poems in Hindi

Hindi Motivational Poems Collection

Hindi Motivational Poems Collection

जीवन है वरदान ख़ुदा का
खेल न खेलो इसके साथ,
दौलत के पीछे भागने से तो
प्यार भी ना आयेगा तेरे हाथ.

सोने चांदी के बर्तनों में
ज़िन्दगी भर नहीं खाया जाता,
जो है तकदीर में वो ही मिलेगा
हर चीज के लिए मन नहीं ललचाया जाता.

गर जानते हो मेहनत करना तो
सब कुछ मिलेगा इस धरती पर,
गर लालच में जीते रहे तो
लकड़ी तक ना मिलेगी अर्थी पर.

गर दौलत मिल गई बिन मेहनत तो
तुझे नींद कहाँ फिर आएगी,
उठ उठ कर रातों में तू
नींद की गोलियाँ खाएगी.

पैसों के पीछे भाग मत तू
ख्वाहिशें तेरी बढ़ जाएगी,
पैसों का क्या करेगी तू
जब अपनों से दुरी बढ़ जाएगी.

बात ये तू ध्यान रखना
समझाऊंगा नहीं हर बार मैं,
कोशिश करले पैसों से बेशक
पर ज़िन्दगी चलती है प्यार से.

पैसों के पीछे पागल होकर
सबको पछतावा होता है,
ऊँची हो दूकान जहाँ पर
वहां फीका पकवान होता है.

प्रवेश कुमारपीके

Quotes on Success for Students

===—@@—===

Inspirational Poems in Hindi

मेरे सफ़र में हमसफ़र “शीशा”
इसमें है एक मेरा जैसा,
चल ढाल सब एक से हैं
मेरे जैसी ही बोले भाषा.

जब सफ़र शुरू किया मैंने अकेले
हम दोनों गुरु थे दोनों चेले ,
कुछ मुझे पता था कुछ उसने सिखाया
सारे खेल हमने साथ में खेले.

प्रवेश कुमारपीके

===—@@—===

Motivational Poems in Hindi

Motivational Poems About Life

Motivational Poems About Life

कहीं बहार आई मोहब्बत की
कहीं कमी हो गई प्यार की,
किसी को मिली शान सवारी
किसी को मिले नहीं कंधे चार भी,

किसी का राज़ है किसी के ठाठ हैं
कोई खाता सब्जी शाही पनीर की,
कोई बेबस है तो कोई लचर है
किसी को मिलता नहीं रोटी के साथ आचार भी.

कोई गरीब है और कोई बेरोजगार है,
और कितने ही घूमते बेकार भी,
कोई अमीर है तो किसी का व्यापार है,
और कितने ही चलाते कार भी.

कोई भूखा सोता कोई दर्द से रोता
किसी को मिलता नहीं कोई उपचार भी,
कोई ‘बार’ में पीता एम्स में ठीक होता
ये होता रहेगा जब तक है भ्रष्टाचार भी.

प्रवेश कुमारपीके

Success Quotes for Students

===—@@—===

Motivational Poems In Hindi

बचपन के झूलों से
जवानी के मेलों तक का सफ़र
मैंने देखा है इन दर्द भरी आहों से………

सोते हुए कदमो से
जाना है कहाँ तक, पूछा है
इन भागती हुई राहों ने……………………

छोटी सी मांझी में
माँ की लौरी से
सो जाते थे पलभर में
अब मलमल के बिस्तर में
ठंडी ठंडी हवाओं से
नींद नहीं निगाहों में…………………………

बचपन के झूलों से
जवानी के मेलों तक का सफ़र
मैंने देखा है इन दर्द भरी आहों से………

मिट्टी के घरोंदो में
मासूम सी खुशियों से
दिन कट जाते थे पलभर में,
अब बिजली के सामानों से
बनावट की दुनिया में
चैन नहीं किसी की बाहों में ………………

बचपन के झूलों से
जवानी के मेलों तक का सफ़र
मैंने देखा है इन दर्द भरी आहों से………..

झूठे-झूठे चेहरों में
नफरत की नजरों से
मैंने इक चेहरा तलाशा है,
पर चांदी की चमक से
दौलत की मोहब्बत में
अनजान है वो वफाओं से ……………………

बचपन के झूलों से
जवानी के मेलों तक का सफ़र
मैंने देखा है इन दर्द भरी आहों से…………..

प्रवेश कुमारपीके

===—@@—===

Hindi Love Poems For Her

मुझे बेशक भुला देना मगर
मेरा नाम याद रखना,
लाखों मिलेंगे मुझसे अच्छे
मुझसा ना मिलेगा कोई
मेरा ये पैगाम याद रखना.

और अगर कही मुलाकात हो जाये
सफ़र-ए-ज़िन्दगी में तो
नजर ना चुराना, सिर्फ
नजरों से नजरों का सिलसिला याद रखना.

होती है कद्र क्या मोहब्बत की
ये वक़्त तुझे सिखा ही देगा,
करते नहीं आजमाइश यूँ
सरे-आम प्यार की
इस दीवाने की ये बात याद रखना.

तू आज़ाद रहे हरेक गम से ज़िन्दगी भर,
किसी ने मांगी है तेरे लिए
ये फ़रियाद याद रखना.

मुझे बेशक भुला देना मगर
मेरा नाम याद रखना,
लाखों मिलेंगे मुझसे अच्छे
मुझसा ना मिलेगा कोई
मेरा ये पैगाम याद रखना.

प्रवेश कुमारपीके

Motivational Thoughts in English for Success

===—@@—===

Motivational Poems in Hindi

Inspirational Poems About Life

Inspirational Poems About Life

सीधी सी इस ज़िन्दगी के टेढ़े मेढे रास्ते
ऐ ख़ुदा क्या है बस ये मेरे ही वास्ते,
झूठे लगने लग गए अब सनम के रास्ते
अब जिंदा हूँ मैं ऐ ‘कलम’ बस तेरे ही वास्ते.

क्या कमी है मुझमे जो मिलती नहीं मंजिल
हर आज गुजर जाता है बनकर मेरा कल,
कोई कहता है रहने दे कोई कहता है चल
कोई कहे मुझे सयाना कोई कहे बेअकल.

क्यूँ दी है ख़ुदा ने मुझे ज़िन्दगी
है नहीं जब यहाँ किसी के पास बंदगी,
मैं हूँ बेकार या दुनिया में है गन्दगी
पूछूँगा ख़ुदा से गर मुलाकात हो गई कभी.

मेरी दुनिया है अलग मैं अकेला हूँ यहाँ
सब रास्तों से जुदा है मेरी मंजिल के रास्ते,
मारने से भी मैं ना मरूँगा यहाँ
क्यूंकि जिंदा हूँ मैं अब बस कलम के वास्ते.

प्रवेश कुमारपीके

===—@@—===

Heart Touching Motivational Poems In Hindi

शीशा-ए-दिल मेरा मलमल से टूट गया,
हाथ में जो आँचल था वो छूट गया,
इंसानों की इस दुनिया में कल
अकेलेपन से दम घुट गया.

दिल के टुकड़े हजार हुए
हर टुकड़े में थे दर्द नए,
ये अंजाम है मेरी वफ़ा का
शुक्र है हम बेवफ़ा ना थे.

वो दूर है वो बेवफ़ा नहीं
होगा उनका भी कोई सपना कहीं,
रोज टूटते है दिल सैकड़ों
मेरा भी टूटा, नई बात नहीं.

वो दूर हैं, कुछ उनके उसूल हैं
उसूल में जीना कोई ख़राब नहीं,
दर्द-ए-दिल की दावा है हाथ में
मैं जो पीता हूँ ये वो शराब नहीं.

दिल का हरेक टुकड़ा जोड़ा है
मैं ही जनता हूँ कैसे,
जख्म देकर वो पूछते हैं
अब मेरे बिन जियोगे कैसे.

प्रवेश कुमारपीके

Inspirational Status About Life For Whatsapp

===—@@—===

Broken Heart Sad Poem

नफरत ही नफरत से छिक सा गया हूँ मैं,
सुन-सुन कर सबकी बातें थक सा गया हूँ मैं.

हर एक चेहरे ने मुझे घुर कर देखा है,
कसूर मेरा है क्या मेरे हाथ में कौनसी रेखा है.

रोती भी अपनी नहीं आसमान ही घरोंदा है,
पत्थर की मूरत से मांगी हुई दुआ में जिंदा हैं.

पैसे वालों के घर जाकर थोकर ही खाई है,
दर-दर जाकर मैंने ये ज़िन्दगी कमाई है.

कागज़ की पत्तियों का हर कोई पुजारी है,
दौलत की इस दुनिया में सिर्फ मतलब की यारी है.

पत्थर की आँखों से मैंने अश्क बहाए हैं,
जो खुशियाँ थी कल मेरी आज वो जलवे पराये हैं.

अपनी सूरत देखने को शीशे की अलमारी खोली है,
मुक्ति पाने की चाहत में मैंने हरेक कब्र टटोली है.

प्रवेश कुमारपीके

===—@@—===

Motivational Poems in Hindi

Motivational Poems in Hindi

Motivational Poems in Hindi About Success

खाली जेब ने सीखा दिया ज़िन्दगी जीना,
हँसते रहो चाहे गम को पडे पीना.

हाथ पसरोगे तो कोई तुमको कहेगा कमीना
करो मेहनत चाहे जितना निकले पसीना.

भीख मांगना भी कहाँ आसान होता है ,
ज़िन्दगी हर कदम एक नया इम्तिहान होता है.

एक महफ़िल में आ गया मुझको रोना
टूटा था उस दिन मेरा सपना सलोना,
मिला नहीं मुझे शुकून का कोई कोना
जाना मैंने तब कुछ पाकर के खोना.

कुछ पाना भी कहाँ आसान होता है खाली.
ज़िन्दगी हर कदम एक नया इम्तिहान होता है.

प्रवेश कुमारपीके

Hindi Bhakti Song and Devotional Songs

===—@@—===

Hindi Poem On God

मत सोच कि तेरा दुःख बड़ा है
देख ख़ुदा तेरे साथ खड़ा है,
जो भी संघर्ष से लड़ा है
वही हिमालय छोटी पे चढ़ा है.

अभी तेरी कोशिश थोड़ी अधूरी है,
पर ख़ुदा को याद करना भी जरूरी है.
लड़ते-लड़ते रुक मत जाना,
मुसीबतों से कभी ना घबराना
ख़ुशी से गा तू कोई तराना,
कि देखता रह जाये ज़माना.

कुछ करने की इच्छा तेरी पूरी है,
पर ख़ुदा को याद करना भी जरूरी है.

चलता रह तू सीना तान
डर कट तू हार ना मान,
लड़ना ही है तेरी शान
जब तक है शारीर में जान.

बस मंजिल से थोड़ी सी दूरी है,
पर ख़ुदा को याद करना भी जरूरी है.

देख तेरी मंजिल आ गई,
हर मुसीबत तुझसे घबरा गई,
खुशियों की बूंदे आ गई,
एक ताकत है तुझमे समां गई.

कोशिश हुई तेरी आज पूरी है,
पर ख़ुदा को याद करना भी जरूरी है.

प्रवेश कुमारपीके

Keep Upright

===—@@—===

Motivational Poems in Hindi

Motivational Poems in Hindi Font

Motivational Poems in Hindi Font

कभी-कभी आसान लगे ज़िन्दगी
कभ-कभी हैरान करे ज़िन्दगी
पर अब तो रोज परेशान करे ज़िन्दगी.

दूर उस खाली मैदान में कभी
हँसते थे घंटो खेलते थे
पर आज वहां पैर रखने को जगह नहीं.

पहले सुबह ताज़ी हवा खाते थे
पर अब हवा जहाँ से गुजरती है
वहां हर जगह ढेर हो गए गन्दगी.

जमीं हो रही है रोज छोटी
जनसँख्या इस कदर बढ़ रही
कि इंसान को इंसान की कदर नहीं.

मानवता ने प्राण त्याग दिये
इंसानियत कब्र पर लेट गई
अब सब खत्म हो गई बंदगी.

मेरी हस्ती ऐसे खत्म हुई
मेरी परछाई मुझसे कहने लगी
अजनबी हो तुम भी अजनबी है हम भी.

नफरत पलने लग गई दिल में
रिश्ते नाते सब भूल गया
अकेला रहना चाहा मैंने हर कहीं.

अकेला रहकर हो गया परेशान
चैन नहीं है अब सुबह शाम
जीने का बचा अब कोई अर्थ नहीं.

मौत को पाने की चाहत में
सवाल पूछा ख़ुदा से हर घड़ी
ऐ ख़ुदा क्यूँ दी है मुझे ज़िन्दगी.

प्रवेश कुमारपीके

Short Inspirational Quotes About Life

===—@@—===

Motivational Poems In Hindi for Success

तुझे देखकर मेरा दिल रुक गया,
प्यार में तेरे मेरा सर झुक गया.
तेरी चाल में नहीं कोई खराबी
देखकर मैं तो हुआ शराबी.

कमर तेरी मस्त लचके
देखकर मेरा दिल मचले.
सीना तेरा मुझे करे दीवाना
मैं गाऊं तेरे प्यार में गाना.

तेरी जुल्फों में मेरा दिल अटका
ये खाए रुक-रुक कर झटका
स्माइल पर तेरी मेरा दिल फिसला
नीचे से ऊपर तक मेरा शरीर मचला.

तेरे “whole” फिगर ने किया मुश्किल जीना
बता तेरा नाम है क्या
रीना, मीना या कटरीना.

प्रवेश कुमारपीके

===—@@—===

Motivational Poems in Hindi

Latest Motivational Poems In Hindi

Latest Motivational Poems In Hindi

तूफ़ान जो आए राहो में उनसे
लड़ने का मुझमे हौसला है.
जिंदगी के पेड़ की सबसे ऊँची
टहनी पर मेरा घोसला है.

अभी और ऊपर मुझे जाना है,
सारे आसमान को पाना है.
जहाँ ना पहुँचा अब तक कोई
वही मंजिल मेरा ठिकाना है.

कोई कहता है मुझे पागल
कोई कहता है दीवाना है.
मंजिल पाने की ललक है मुझमे
बस इतना सा मेरा फ़साना है.

पैदा होना और मर जाना
ये तो दस्तूर-ए-ज़माना है,
लेकिन मुझे तो पैर ज़मीन पर रखकर
हवाओं में उड़ते हुए जाना है.

प्रवेश कुमारपीके

Thanks for Checkout Motivational Poems in Hindi